Sharad Pawar Said

 

 

मुंबई: आज राम मंदिर के निर्माण की तारीख सामने आई है. इस बीच एनसीपी के प्रमुख शरद पवार ने कहा कि हमें तय करना होगा कि कौन सा काम कितना महत्वपूर्ण है? उन्होंने कहा कि कुछ लोग सोचते हैं कि राम मंदिर बनने से कोरोना खत्म हो जाएगा. उन्होंने नसीहत देते हुए कहा कि सरकार को लॉकडाउन की वजह से हुए नुकसान पर चिंता करनी चाहिए.

कोरोना के हालात बदतर होते जा रहे हैं- शरद पवार

शरद पवार महाराष्ट्र के सोलापुर में कोरोना के हालात का जायजा लेने आए थे. इस दौरान उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब पत्रकारों ने उनसे राम मंदिर को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि हमें ये तय करना होगा कि हमारे लिए क्या महत्वपूर्ण है. कोरोना के हालात दिन ब दिन बदतर होते जा रहे हैं लेकिन इस दौरान कुछ लोग सोचते हैं कि मंदिर बन जाने से कोरोना देश के बाहर चला जाएगा. (Sharad Pawar Said)

5 अगस्त को होगा राम मंदिर निर्माण का भूमि पूजन

बता दें कि अगले महीने 5 तारीख को राम मंदिर का भूमि पूजन होगा. पीएम नरेंद्र मोदी इस भूमि पूजन में शामिल होंगे. कोरोना संक्रमण को देखते हुए कुछ सीमित लोग ही इसमें शरीक हो पाएंगे. भूमि पूजन का कार्यक्रम करीब तीन घंटे तक चलेगा. राम मंदिर 161 फीट ऊंचा होगा. तीन की बजाय अब पांच गुंबद बनाए जाएंगे. (Sharad Pawar Said)

बता दें कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास की कल बैठक हुई थी. इस बैठक में भूमि पूजन के लिए दो तारीखें पीएमओ को भेजी गई थी. इसके बाद भूमि पूजन के लिए 5 अगस्त की तारीख को फाइनल किया गया.

यह भी पढ़ें: Tips: Fat Has Increased In Lockdown Reduce Weight In These Easy Ways

Leave a Reply