कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को सरकारी थिंक टैंक नीति आयोग के उस दावे की आलोचना की, जिसमें भविष्यवाणी की गई थी कि 16 मई के बाद कोविड-19 का कोई भी मामला नहीं आएगा.

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने नीति आयोग के एक सदस्य के कुछ हफ्ते पुराने एक बयान एवं ग्राफ का हवाला देते शुक्रवार को सरकार पर तंज कसा और कहा कि इस संस्था के जुड़े प्रतिभाशाली लोगों को उनकी बात याद दिलाना चाहते हैं.

गांधी ने ट्वीट किया, ‘‘नीति आयोग के लोगों प्रवीण लोगों, आप लोगों ने फिर वही किया. मैं आपके उस अनुमान वाले ग्राफ के बारे आपको याद दिलाना चाहता हूं, जिसमें कहा गया था कि सरकार की राष्ट्रीय लॉकडाउन की रणनीति से 16 मई के बाद कोरोना का कोई नया मामला नहीं आएगा.’’

खबरों के मुताबिक नीति आयोग के सदस्य और कोरोना से जुड़े कार्य बल के प्रमुख वी के पॉल ने कुछ हफ्ते पहले कहा था कि कोरोना के मामलों के दोगुना होने में 10 दिन का समय लग रहा है. संभावना वाले ग्राफ के मुताबिक 3 मई से भारत में प्रति दिन 1,500 से अधिक नये मामले आने चाहिए थे और इस समय तक कोरोना मामलों की संख्या चरम पर होनी चाहिए थी. उन्होंने यह भी कहा था कि फिर मामले घटने शुरू होंगे और 12 मई तक 1000 मामले प्रतिदिन आयेंगे, जो 16 मई से घटने शुरू हो जाएंगे.





Source link

Leave a Reply