• Post published:June 16, 2020
  • Post category:World
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read

 Physical Torture

  • सिंथिया डी रिची पर पूर्व पीएम बेनजीर भुट्‌टो की इमेज खराब करने का आरोप
  • सेशन कोर्ट ने फेडरल इंवेस्टिगेशन एजेंसी को केस दर्ज करने का आदेश दिया

इस्लामाबाद. पाकिस्तान की एक अदालत ने देश के सबसे बड़ी जांच एजेंसी को अमेरिकन ब्लॉगर सिंथिया डी रिची के खिलाफ केस दर्ज करने का आदेश दिया है। आरोप है कि उन्होंने सोशल मीडिया पर पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्‌टो की इमेज खराब की। सिंथिया ने एक हफ्ते पहले ही पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक पर रेप का आरोप लगाया था। रिची ने पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी पर भी शारीरिक प्रताड़ना का गंभीर आरोप लगाया है। (Physical Torture)

पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करने इनकार किया 
जियो न्यूज के मुताबिक, बेनजीर मामले पर पुलिस ने सिंथिया के खिलाफ केस दर्ज करने से मना कर दिया था। पुलिस ने कहा था कि यह साइबर क्राइम का मामला है। इसके बाद इस्लामाबाद की सेशन कोर्ट ने फेडरल इंवेस्टिगेशन एजेंसी (एफआईए) को केस दर्ज करने का आदेश दिया है। सिंथिया ने कहा था कि बेनजीर ने पाकिस्तान में रेप कल्चर पर कोई कार्रवाई नहीं की और एक तरह से इसे मूक सहमति दी। (Physical Torture)

गिलानी ने सिंथिया को नोटिस भेजकर 10 करोड़ का हर्जाना मांगा
शारीरिक प्रताड़ना के आरोपों के बाद पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने 10 जून को सिंथिया को एक कानून नोटिस भेजा। उन्होंने 10 करोड़ रुपए हर्जाने और माफी की मांग की। पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने भी कानूनी नोटिस भेजने की बात कही है। (Physical Torture)

इमरान की सोशल मीडिया टीम में हैं सिंथिया
सिंथिया फिलहाल प्रधानमंत्री इमरान खान की सोशल मीडिया टीम में हैं। सिंथिया ने ट्वीट किया था कि 2011 में उनके साथ पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने रेप किया था। उस दौरान वह राष्ट्रपति भवन में रहती थीं।(Physical Torture)

यह भी पढ़ें: Zomato Now Have Home Delivery Of Fruits And Vegetables Agreement With Mother Dairy Company Safal

Leave a Reply