• Post published:June 24, 2020
  • Post category:World
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read

Earthquake

  • पिछले 7 दिनों में 20 बार भूकंप आ चुका है, इसके पहले 2017 में भूकंप के चलते 700 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है
  • यूएस जियोलॉजिक सर्वे के मुताबिक भूकंप का केंद्र ओक्साका स्टेट से 12 किलोमीटर दूर था

मैक्सिको सिटी. मैक्सिको में मंगलवार को तेज भूकंप से दहशत फैल गई। मैक्सिको सिटी, साउथ मैक्सिको और सेंट्रल मैक्सिको में 7.4 तीव्रता के झटके महसूस किए गए। यहां इमारतें हिल गईं और दहशत से हजारों लोग सड़कों पर आ गए। (earthquake)

यूएस जियोलॉजिक सर्वे के मुताबिक भूकंप का केंद्र ओक्साका स्टेट से 12 किलोमीटर दूर था। वहां के समय के मुताबिक भूकंप सुबह 10.29 बजे आया। इसके तुरंत बाद यूएस सुनामी वॉर्निंग सिस्टम ने राज्य में सुनामी की चेतावनी भी जारी की है। (earthquake)

2017 में भूकंप से गई थी 700 से ज्यादा लोगों की जान

मैक्सिको में इसके पहले 2017 में दो बार भूकंप आया था। 8 सितंबर को 8.1 तीव्रता से भूकंप के झटके आए थे। इसमें 150 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। दूसरी बार 20 सितंबर को 7.1 की तीव्रता से भूकंप आया। इसमें 500 से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। चारों तरफ तबाही का मंजर देखने को मिला था। 

7.4 magnitude earthquake in Mexico; Buildings rocked, tens of thousands of people took to the streets in panic | मैक्सिको में 7.4 तीव्रता का भूकंप; इमारतें हिलीं, दहशत से हजारों लोग सड़कों पर आए, सुनामी का अलर्ट
भूकंप के झटके साउथ और सेंट्रल मैक्सिको में 100 किलोमीटर के दायरे में महसूस किए गए।

7 दिनों में 20वीं बार लगे झटके
अर्थक्वेक ट्रैक डॉट कॉम के मुताबिक मैक्सिको में पिछले 7 दिनों में 20 बार भूकंप आ चुका है। हालांकि सबसे ज्यादा तीव्रता का भूकंप मंगलवार को आया। पिछले 24 घंटे में ही 4 बार झटके महसूस किए जा चुके हैं। आंकड़ों के मुताबिक इस साल यहां 99 बार भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं।  (earthquake)

यह भी पढ़ें: PM’s model village scheme a non-starter, finds govt audit

7.4 magnitude earthquake in Mexico; Buildings rocked, tens of thousands of people took to the streets in panic | मैक्सिको में 7.4 तीव्रता का भूकंप; इमारतें हिलीं, दहशत से हजारों लोग सड़कों पर आए, सुनामी का अलर्ट

ये फोटो सेंट्रल मैक्सिको की है। भूकंप का झटका लगने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल आए।

Leave a Reply