• Post published:June 20, 2020
  • Post category:Business
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read

Debt Free

दरअसल, कंपनी को 31 मार्च 2021 तक कर्जमुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया था. कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा शेयरहोल्डर्स के साथ किए गए इस वादे को बहुत पहले ही पूरा कर लिया गया

 

रिलायंस इंडस्ट्रीज कंपनी ने खुद को अगले साल तक पूरी तरह कर्ज मुक्त करने के लक्ष्य को अभी ही हासिल कर लिया है. इसको लेकर कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बयान जारी किया है और कहा कि 31 मार्च 2021 तक कंपनी को कर्ज मुक्त बनाने के वादे को बहुत पहले ही पूरा कर दिया गया है. (Debt Free)

मुकेश अंबनी ने बयान जारी करते हुए कहा, “आज मुझे ये एलान करते हुए प्रसन्नता हो रही है कि हमने शेयरहोल्डर्ड के साथ जो वादा था कि रिलायंस को 31 मार्च 2021 तक कर्जमुक्त बनाएंगे, उसे बहुत पहले ही पूरा कर लिया गया है.”(Debt Free)

गौरतलब है कि इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए लगातार निवेशक जुटाए जा रहे थे. जियो प्लेफॉर्म में लगातार दसवें निवेशक की हिस्सेदारी भी इस बात का सबूत है.

बता दें कि जियो प्लेटफॉर्म्स में अब तक लगातार दसवें निवेशक ने निवेश किया. सबसे नया निवेशक सऊदी अरब का पब्लिक इनवेस्टमेंट फंड (PIF) है.(Debt Free)

इसने इसकी 2.32 फीसदी हिस्सेदारी 11,367 करोड़ रुपये में खरीदी है. लगातार नौवें सप्ताह में जियो प्लेटफॉर्म्स में यह दसवीं हिस्सेदारी है. जियो प्लेटफॉर्म अब तक अपन 24.70 फीसदी हिस्सेदारी बेच कर 1.6 लाख करोड़ रुपये जुटा चुका है.(Debt Free)

रिलायंस जियो प्लेटफॉर्म में 11वें निवेशक के तौर पर PIF ने निवेश का एलान किया. PIF ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 11,367 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा की और इस निवेश के तहत ये जियो प्लेटफॉर्म्स की 2.32 फीसदी हिस्सेदारी ले पाएगी.(Debt Free)

बता दें कि इससे पहले रिलायंस जियो ने लगातार 10 बड़ी डील के जरिए कई साझेदारी की है और इसमें सबसे बड़ा नाम फेसबुक का है.

22 अप्रैल को फेसबुक के 9.99 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के एलान के बाद सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी, जनरल अटलांटिक, केकेआर, मुबाडला और अबू धाबी इन्वेस्टमेंट अथॉरिटी, टीपीजी और एल कैटरटन ने जियो में निवेश करने का एलान किया था.

यह भी पढ़ें: India will give a befitting reply to provocation, warns Modi

 

Leave a Reply