• Post published:August 17, 2021
  • Post category:Technology
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read

बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया ने अपनी पहली जर्नी में एक नया मुकाम हासिल किया है. क्राफ्टन ने सोमवार को घोषणा की कि पबजी मोबाइल इंडिया अवतार को अब गूगल प्ले स्टोर पर 5 करोड़ डाउनलोड मिल चुके हैं. बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया ने 2 जुलाई को लॉन्च होने के बाद से एक महीने से कुछ अधिक समय में यह कामयाबी हासिल की. इस कामयाबी पर क्राफ्टन बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया के प्रत्येक खिलाड़ी को गैलेक्सी मैसेंजर सेट परमानेंट आउटफिट सहित दूसरे रिवार्ड देगी.

क्राफ्टन में बैटलग्राउंड मोबाइल डिवीजन के प्रमुख वूयोल लिम ने कहा “हम स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर अपने भारतीय प्रशंसकों को हार्दिक शुभकामनाएं देते हैं. हम इस उत्सव का हिस्सा बनकर खुश हैं, जिसे बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया के साथ और भी बेहतरीन बना दिया गया है, जिसे प्ले स्टोर पर केवल एक महीने में 5 करोड़ डाउनलोड मिले हैं. मैं अगले महीने से शुरू होने वाले हमारे पहले ईस्पोर्ट्स टूर्नामेंट के लिए समान रूप से मजबूत प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा कर रहा हूं ” 

आईओएस वर्जन जल्द होगा लॉन्च
पुरस्कारों के अलावा, जिसमें मुख्य रूप से सभी खिलाड़ियों के लिए गैलेक्सी मैसेंजर सेट परमानेंट आउटफिट शामिल है, क्राफ्टन आश्वस्त कर रहा है कि गेम का आईओएस वर्जन जल्द ही रिलीज किया जाएगा. क्राफ्टन ने कहा कि वह “बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया सोशल मीडिया चैनलों पर बहुत जल्द गेम के आईओएस वर्जन की घोषणा करेगा.”

भारतीय प्लेयर्स के लिए डिजाइन किया गया प्रोग्राम
क्राफ्टन ने हाल ही में बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया के खिलाड़ियों के लिए स्वतंत्रता दिवस महोत्सव की शुरुआत की, जिसे कंपनी भारतीय खिलाड़ियों के लिए अपने कई प्रयासों में से एक मानती है. पिछले साल, पबजी मोबाइल के भारतीय वर्जन की घोषणा के समय, क्राफ्टन ने भारतीय दर्शकों के लिए एक्सक्लूसिव टूर्नामेंट और कार्यक्रम आयोजित करने का वादा किया था. भारतीय स्वतंत्रता दिवस मनाना उनमें से एक है, जिसे विशेष रूप से भारतीय खिलाड़ियों के लिए डिजाइन किया गया है.
 

यह भी पढ़ें- 

Samsung Galaxy A22 5G: सैमसंग ग्लैक्सी ए-22 लॉन्च, जानिए कैमरे-प्रोसेसर के बारे में

Redmi Note 10 Pro और Redmi Note 10 Pro Max के बेस स्टोरेज हुए बंद, Mi और Amazon से दिखे नदारद

Leave a Reply