• Post published:July 4, 2020
  • Post category:Gadgets
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:1 mins read
  • शानदार रिस्पॉन्स को देखते हुए अब कई इनवेस्टर्स इस ऐप में इनवेस्ट करने में इंट्रेस्टेड दिखाई दे रहे हैं
  • कंपनी को इस माह तक 10 करोड़ यूजर्स जुड़ने की उम्मीद, हर आधे घंटे में 10 लाख से ज्यादा व्यू मिल रहे हैं

नई दिल्ली. चाइनीज ऐप टिक टाॅक के बैन होने के बाद भारतीय ऐप Chingari App (चिंगारी ऐप) तेजी से लोगों के स्मार्टफोन का हिस्सा बनता जा रहा है। कंपनी के मुताबिक, इस ऐप को 22 दिन के अंदर 1 करोड़ 10 लाख बार डाउनलोड किया जा चुका है। वहीं, एक हफ्ते पहले इस ऐप के डाउनलोड 25 लाख पार हो गए थे। बिजनेसमैन आनंद महिन्द्रा भी चिंगारी ऐप से जुड़ गए हैं। हाल ही उन्होंने इस ऐप की तारीफ की थी।

कई इनवेस्टर्स इनवेस्ट करने में इंट्रेस्टेड

बता दें कि चिंगारी ऐप को मिले शानदार रिस्पॉन्स को देखते हुए अब कई इनवेस्टर्स इस ऐप में इनवेस्ट करने में इंट्रेस्टेड दिखाई दे रहे हैं। वहीं, डेवेलपर्स का कहना है कि अच्छे इन्वेस्टर्स मिलने के बाद इस ऐप को और भी बेहतर बनाया जाएगा।

इस माह 10 करोड़ यूजर्स तक पहुंचने की उम्मीद

कंपनी के को-फाउंडर विश्वात्मा नायक का कहना है कि यह ऐप 100 फीसदी भारतीय है इसे खासतौर पर भारतीयों के लिए बनाया गया है। भारत में टिकटॉक बैन के बाद से ही ऐप को हर आधे घंटे में 10 लाख से ज्यादा व्यू मिल रहे हैं। कंपनी का उद्देश्य इस महीने 10 करोड़ यूजर तक पहुंचने की है।

जल्द ही इस ऐप से जुड़ेंगे नए फीचर्स 

बता दें कि चिंगारी ऐप को चीनी ऐप्स पर बैन लगने के कुछ दिनों पहले ही लॉन्च किया गया था, लेकिन बैन के बाद ऐप के यूजर्स में तेजी से उछाल देखने को मिला। कंपनी के को-फाउंडर  और चीफ  प्रोडक्ट हेड, सुमित घोष ने कहा कि अभी यह ऐप कमाई का जरिया नहीं है लेकिन मनोरंजन के लिए यह ऐप बेहतरीन है। हम जल्द ही इस ऐप में कई नए फीचर्स को जोड़ेंगे। इसे और ज्यादा डेवेलप किया जाएगा।

इस ऐप में 10 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा

चिंगारी ऐप का इंटरफेस टिक टाॅक जैसा ही है लेकिन अभी इसमें कुछ सुधार की जरूरत है। इस ऐप में 10 भाषाओं का सपोर्ट मिलेगा, जिसमें अंग्रेजी, हिंदी, बंगला, गुजराती, मराठी, कन्नड़, पंजाबी, मलयालम, तमिल और तेलुगु शामिल हैं। यह ऐप एंड्रायड और आईओएस यूजर्स के लिए उपलब्ध है।

Leave a Reply